बीमा क्या है? और इसके प्रकार

0
50

बीमा क्या है? इस लेख में हम जानेंगे इन्शुरन्स का हिंदी में मतलब क्या होता है। Insurance कितने प्रकार के होते हैं और ये किस काम आता है। इसी के साथ आपको बताएँगे साधारण या सामान्य बीमा क्या होता है? Insurance policy in Hindi क्या है और बीमा की विशेषताएं क्या होता है।

टीवी चैनलों, अखबार व इंटरनेट पर आपने बहुत सी इन्शुरन्स कंपनियों के विज्ञापन देखे होंगे, तो शायद आपके मन में ये सवाल आया होगा कि insurance meaning in Hindi क्या होता है। इंडिया में बहुत से बीमा प्रदाता कंपनी है।

हालांकि इन इन्शुरन्स कंपनियों में से करीब 24 कंपनी ऐसी है जो भारत सरकार के Insurance Regulatory and Development Authority (IRDA) द्वारा रजिस्टर्ड और एप्रूव्ड मिला हैं।

इन कंपनियों में से कुछ लोकप्रिय हैं जैसे:- LIC, SBI Life Insurance, MAX Life, TATA AIA, Bharti AXA, Aegon Life Insurance, Kotak Mahindra Old Mutual Life Insurance इत्यादि। ये सभी कंपनी लाइफ इन्शुरन्स प्रदान करती हैं।

जब आप किसी भी कंपनी से बीमा लेते हैं तो आपसे एक कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर करवाया जाता है जिसे (insurance policy ) कहते हैं।

इसके बाद आपको उस बीमा प्रीमियम को जमा करना होता है। कई लोग तो इन्शुरन्स के प्रीमियम के बारे में जानना चाहते हैं। इस लेख के माध्यम से आपको बीमा प्रीमियम और उसके पॉलिसी के बारे में भी जानकारी हिंदी में देंगे।

Insurance Meaning In Hindi:-

Insurance एक अंग्रेजी शब्द है और हिंदी में इसे (बीमा )कहते हैं। दरअसल बीमा का प्रयोग प्रायः खुद की या अपने किसी वस्तु की भविष्य में होने वाले नुकसान की संभावना के भरपाई के लिए किये जाते है। अर्थात बीमा भविष्य में होने वाले नुकसान की भरपाई का एक अच्छा साधन है।

बीमा क्या है:-

हम आसान शब्दों में आपको बताएं तो इन्शुरन्स यानी बीमा एक प्रकार का जोखिम प्रबंधन है जो भविष्य में हमें या हमारे किसी वस्तु को पहुंचने वाले क्षति की भरपाई धनराशि या अन्य प्रकार के मुआवजा प्रदान करके करती है।

जोखिम प्रबंधन के रूप में आपको धनराशि मिलेगी या आपके किसी वस्तु को क्षति पहुंची है उसके बदले में आपको नया सामान दिया जाएगा या उसे ठीक करा कर दिया जायेगा, ये आपके बीमा किस प्रकार का लिया है इस पर निर्भर करता है।

जब हम आपके क्षति की बात कर रहे हैं तो इसका तात्पर्य आपके स्वास्थ्य, आपकी मृत्यु, आपके साथ घटने वाली अनेक प्रकार की दुर्घटना, आर्थिक (वित्तीय) इत्यादि से से है।

इसके अलावे किसी वस्तु से तात्पर्य आपके घर, दोपहिया वाहन, चार पहिया वाहन, स्मार्टफोन इत्यादि वस्तुओं का खराब होने, टूटने-फूटने और चोरी होने से है। इसके अतिरिक्त अन्य प्रकार के इन्शुरन्स भी होते हैं जिनकी जानकारी नीचे बताई गई है।

तो इस प्रकार से इन्शुरन्स एक प्रकार का कॉन्ट्रैक्ट है जिसके अंतर्गत बीमित व्यक्ति और बीमा कंपनी के बीच एक अनुबंध होती है। इसके तहत बीमाधारक व्यक्ति इंश्योरेंस कंपनी को एक छोटी सी धनराशि प्रीमियम के तौर पर एक निश्चित समय के लिए जमा करना पड़ता है।

इस दौरान यदि आपके साथ किसी प्रकार की दुर्घटना या आपका कोई नुकसान होता है तो policy के तय शर्त के अनुसार आपको बीमा कंपनी मुआवजा देती है।

अगर किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता है तो बीमा का समय पूरा होने पर आपको ब्याज सहित जमा धनराशि मिल जाती है या जो बीमा कंपनी और बीमाधारक व्यक्ति के बीच अनुबंध होगा उसे बीमा कंपनी पूरा करती है।

इन्शुरन्स पॉलिसी कितने प्रकार के होते हैं?

अगर हम इन्शुरन्स पालिसी के type कि बात करें तो insurance कई प्रकार के होते हैं। लेकिन मुख्य तौर पर इन्शुरन्स दो ही तरह के होते हैं और उन्हीं दोनों बीमा के अंतर्गत और कई प्रकार के इन्शुरन्स आते हैं। जो दो प्रकार के इन्शुरन्स है उन्हें जनरल इन्शुरन्स (सामान्य बीमा) और लाइफ इन्शुरन्स (जीवन बीमा) कहते हैं।

General Insurance (साधारण बीमा):-

General insurance का हिंदी में मतलब साधारण बीमा होता है। जनरल इन्शुरन्स के अंदर पांच प्रकार के इन्शुरन्स आते हैं जो निम्नलिखित हैं।

  • Health Insurance – स्वास्थ्य बीमा
  • Motor Insurance-मोटर बीमा
  • Home Insurance – गृह बीमा
  • Fire Insurance – अग्नि बीमा
  • Travel Insurance – यात्रा बीमा

अन्य प्रकार के जनरल इन्शुरन्स:-

  • Marine insurance – समुद्री बीमा
  • Commercial insurance – व्यावसायिक बीमा
  • Rural insurance – ग्रामीण बीमा
  • Crop insurance – फसल बीमा

Life Insurance (जीवन बीमा):-

Life insurance का हिंदी meaning जीवन बीमा होता है और भारत में लाइफ इन्शुरन्स करीब 9 प्रकार के होते हैं। कहीं-कहीं ये अधिक भी होते हैं, लेकिन जो मुख्य 9 टाइप के है उनके नाम इस प्रकार से है।

  1. Group Life – समूह जीवन बीमा
  2. Child Plans – बाल योजना
  3. Term Insurance – टर्म बीमा
  4. Retirement Plans – सेवानिवृत्ति योजना
  5. Endowment Plans – एंडोमेंट योजना
  6. Money Back Policy – मनी बैक पॉलिसी
  7. Whole Life Insurance – संपूर्ण जीवन बीमा
  8. Unit Linked Insurance Plans (ULIP) – यूनिट लिंक्ड बीमा योजना (यूलिप)
  9. Term With Return Of Premium – रिटर्न ऑफ़ प्रीमियम

Insurance Policy In Hindi . 

इन्शुरन्स पॉलिसी क्या है? दरअसल बीमा पॉलिसी, पॉलिसीधारक और बीमा कंपनी के बीच होने वाले एक अनुबंध (कॉन्ट्रैक्ट) है। इसके अंतर्गत बीमित व्यक्ति आवश्यकता पड़ने पर कभी भी बीमा कंपनी के समक्ष दावा प्रस्तुत करता है। उपरांत बीमाकर्ता को कानूनी तौर पे मुआवजा प्रदान करना पड़ता है जो अनुबंध के तहत कहा गया होगा।

बीमा की विशेषताएं:-

वैसे तो बीमा की ढेर सारी विशेषताएं होती हैं। जैसे -जैसे नई-नई बीमा कंपनी बाजार में आ रही हैं वे कई प्रकार की विशेषता प्रस्तुत करती हैं। अभी के टाइम में जो बीमा की मुख्य विशेषता है वे निम्नलिखित हैं।

  • जोखिम से सुरक्षा
  • जोखिमों का वितरण
  • सहकारी व्यवस्था
  • बीमा जुआ नहीं होता
  • बीमा दान नहीं होता
  • जोखिम का मूल्यांकन
  • कानून के अंतर्गत कार्य
  • विस्तृत क्षेत्र (बड़ा क्षेत्र)
  • सार्वजनिक नीति के विरुद्ध नहीं
  • निश्चित जोखिम (शुद्ध जोखिम)

निष्कर्ष:-

हमारे जीवन में बीमा का बहुत बड़ा महत्व होता है प्रत्येक व्यक्ति को बीमा का लाभ जरूर लेनी चाहिए। इस लेख के माध्यम से आपने जाना इन्शुरन्स मीनिंग इन हिंदी क्या है और बीमा क्या है। इसी के साथ इसके प्रकार की भी जानकारी आपको हो गया होगा। इसके अलावे आपको इसके policy की भी जानकारी हो गयी होगी। अगर एक लाइन में बताएं तो ‘नुकसान की भरपाई का माध्यम हैं बीमा’।

FAQ:-

बीमा क्या है?

बीमा उस साधन को कहते हैं जिसके द्वारा कुछ शुल्क देकर हानि का जोखिम दूसरे पक्ष पर डाला जा सकता है। जिस पक्ष का जोखिम बीमाकर पर डाला जाता है उसे ‘बीमाकृत’ कहते हैं।

अग्नि बीमा क्या है?

जैसा कहा जा चुका है, अग्नि बीमा क्षतिपूर्ति का अनुबंध है अर्थात् जो धनराशि बीमापत्र पर अंकित है वह अवश्य मिल जाएगी, ऐसा नहीं वरन् उस सीमा तक क्षतिपूर्ति हो सकेगी।

जीवन बीमा क्या है?

जीवन बीमा का प्रारंभ भी समुद्री बीमा के प्राय: साथ ही हुआ क्योंकि व्यापारिक यात्रा पर जानेवाले पोतों के मालिकों को जहाँ पोत नष्ट होने की संभावनाओं के विरुद्ध प्रबंध करने की चिंता थी, वहीं उन जहाजों के कप्तानों का जीवन भी उतना ही मूल्यवान था।

दुर्घटना बीमा क्या है?

अनुबंध के अंतर्गत दो प्रकार की परिस्थितियाँ आ सकती हैं-

  • दुर्घटनावश दूसरों की क्षतिपूर्ति करने का भार तथा
  • दुर्घटनावश स्वयं अथवा स्वसंपत्ति को होनेवाली हानि। अमरीका में इसे ‘कैजुएल्टी इंश्योरेंस’ कहते हैं।

घर का बीमा क्या है?

घर का बीमा अर्थात होम इंश्योरेंस में जो बीमा किया जाता है उसमे आपके बिल्डिंग का सामान और कंस्ट्रक्शन के अनुसार पॉलिसी बनाई जाती हैं। इसमें बीमा देने वाली कंपनी घर का या घर के सामान दोनो चीज का नुकसान होने पर देती हैं।

जोखिम (risk) क्या है?

किसी मूल्य की चीज़ को पाने या खोने की सम्भावना को कहते हैं। जोखिम के कार्यों और प्रक्रियाओं में अनिश्चितता का तत्व उपस्थित होता है। जोखिम एक विस्तृत अवधारणा है जिसका विभिन्न परस्थितियों में विभिन्न प्रकार से विश्लेषण व प्रबंधन किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here