Bull Market- बुल मार्केट l बुल मार्केट क्या होता है?

0
24

Bull Market- बुल मार्केट बुल मार्केट क्या होता है? बुल मार्केट के लक्षण बुल मार्केट का लाभ कैसे उठाएं? क्या बुल मार्केट अच्छा है या बेयर मार्केट? बुल मार्केट को कैसे पहचाने? क्या बुल मार्केट मुनाफे का सौदा है?

Bull Market- बुल मार्केट l बुल मार्केट क्या होता है? बुल मार्केट के लक्षण 

बुल मार्केट (Bull Market) किसी financial market की ऐसी स्थिति होती है जिसमें किसी भी asset या security की कीमतें बढ़ती ही जाती हैं या कहें तो बढ़ने की उम्मीद होती है। ‘बुल मार्केट’ शब्द का प्रयोग अक्सर Stock Market के लिए किया जाता है, लेकिन इस शब्द को वैसी किसी भी चीज के लिए भी प्रयोग किया जा जाता है जिसे Trade किया जा सकता है जैसे कि आप जानते है बॉन्ड्स, रियल एस्टेट, करेंसी और कमोडिटीज आदि में। चूंकि trading के दौरान security की कीमत अनिवार्य रूप से घटती बढ़ती रहती हैं, ‘Bull Market’ को विशेष रूप से विस्तारित अवधि के लिए उपयोग में लाया जाता है जिसमें security मूल्यों का बड़ा हिस्सा बढ़ रहा होता है।

मार्किट में बुल मार्केट महीनों तक यहां तक कि कभी कभी वर्षों तक बने रह सकते हैं। खाश तौर पर बुल मार्केट तभी होता है, जब स्टॉक की कीमतें 20-25 प्रतिशत की दो अवधियों की गिरावट के बाद फिर 20 प्रतिशत तक बढ़ जाती हैं। ट्रेडर Bull Market का लाभ उठाने के लिए खरीद में बढ़ोतरी, होल्ड या रिट्रेसमेंट जैसी अनेक रणनीतियों का सहारा लेकर मुनाफा कमाने का हथकंडे अपनाते है।

Bull Market- बुल मार्केट के लक्षण

बुल मार्केट विशेष कर आशावादी, निवेशकों के आत्मविश्वास और उनके उम्मीद को लंबे समय तक मजबूत परिणाम देते रहने से प्रेरित होता है। इसका अनुमान लगाना भले ही मुश्किल होता है लेकिन मार्केट में ट्रेंड में कब बदलाव आएगा यही दिक्कत ट्रेडर को होती है, मनोवैज्ञानिक प्रभावों और स्पेकुलेशन की कभी कभी बाजार में बहुत बड़ी भूमिका होती है। हाल के वर्षों में बुल मार्केट को 2003 और 2007 की अवधि के दौरान देखा गया था, जब एसएंडपी 500 में विश्वसनीय बढ़ोतरी देखी गई थी। आम तौर पर यह तभी होता है जब अर्थव्यवस्था काफी मजबूत हो रही होती है या पहले से ही मजबूत होती है।

Bull Market- बुल मार्केट का लाभ कैसे उठाएं?

जो निवेशक बुल मार्केट का अच्छा लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें बढ़ती कीमतों का लाभ उठाने के लिए आरंभ में ही शेयर की खरीद कर लेनी चाहिए और जब वे अपनी पीक या ऊंचाई पर पहुंच जाएं तो उन्हें जल्दी से बेच डालना चाहिए और अपना मुनाफा बुक कर लेना चाहिए। हालांकि यह तय करना थोड़ा मुश्किल और कुछ हद तक देखा जाए तो जोखिम भरा भी होता है कि कब गिरावट और कब पीक आएगा , अधिकांश रूप से नुकसान कम ही होते हैं और वह भी अस्थायी होते हैं।

क्या Bull Market- बुल मार्केट अच्छा है या बेयर मार्केट?

बुल और बेयर दोनों ही टर्म एक दूसरे के बाद इस्तेमाल किया जाता है। आमतौर पर, यह एक दर्शाता है जहाँ शेयर मार्केट के समग्र कार्यप्रणाली को प्रदर्शित करता है।

एक और, बुल मार्केट एक ऐसी स्थिति है जहाँ स्टॉक की कीमतें बढ़ती है और आर्थिक स्थिति अनुकूल होते है और वही दूसरी तरफ बेयर मार्केट उस स्थिति को कहते है जहाँ स्टॉक की कीमतें तेज गति से नीचे गिरती है।

हालाँकि, अगर आप दोनों स्थिति में एक सही रणनीति निवेश करते है तो आपको बेहतर रिटर्न मिलने की संभावना रहती है। लेकिन आमतौर पर बेयर मार्किट में निवेश करना बुल मार्केट की तुलना में ज्यादा जोखिम भरा है।

Bull Market- बुल मार्केट को कैसे पहचाने?

ट्रेडिंग की शुरुआत करने और बुल मार्केट में निवेश करने से पहले, आपको यह जानना महत्वपूर्ण हो जाता है की आप बुल मार्किट के संकेत को समझें और पता लगाए की बुल मार्किट पर कहाँ निवेश करना है।

Invest करने के लिए आपको Share खरीदने के सभी नियम का पता होना चाहिए।

आपको सही संकेतों की पहचान और जानकारी का होना बहुत जरुरी है तभी ट्रेडिंग के लिए रणनीति बनाने में आपको मदद मिलेगी जिससे आप अधिकतम लाभ आसानी से कमा सकते है।

निचे कुछ संकेत आपको बताये गए है जो एक बुल मार्केट की शुरुआत का स्पष्ट संकेत देते हैं:-

1 . आर्थिक स्थिति का अच्छा होना
2 . कम ब्याज दर
3 . उच्च औद्योगिक उत्पादन का होना
4 . टेक्निकल और साइक्लिक स्टॉक की हमेशा बढ़त
5 . एमएसीडी (मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस) लाइन ट्रिगर लाइन के ऊपर होना चाहिए और ऊपर उठने लगी हो।
6 . एक अन्य दूसरा इंडिकेटर, बुलिश पर्सेंटेज इंडेक्स, बुल अलर्ट को दर्शाता हो और बुल पैटर्न की पुष्टि करता हो ।
7 . शेयर मार्केट की अधिक जानकारी के लिए आपको सेंसेक्स और सेंसेक्स कंपनी लिस्ट का भी विश्लेषण करना चहिये।

क्या Bull Market- बुल मार्केट मुनाफे का सौदा है?

शेयर मार्केट में बुल मार्केट एक ऐसी स्थिति को कहा जाता है जहाँ पर शेयर की कीमत ऊपर जाती है जिससे आप और हम जैसे खरीददार शेयर खरीदने के लिए प्रोत्साहित होते है। लेकिन हमेशा निवेश करने से पहले, एक ट्रेडर के लिए यह जानना बहुत जरुरी होगा की क्या बुल मार्केट मुनाफे का सौदा है या नहीं ?

आपका एक सही रणनीति ही आपके ट्रेडिंग गोल को सफल बनाने में बहुत ज्यादा मदद कर सकता है।

हमारे देश के राकेश झुनझुनवाला (भारतीय बिजनेसमैन और निवेशक) ( एप्टेक लिमिटेड के चेयरमैन और हंगामा डिजिटल मीडिया एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन लिमिटेड ने कोविड 19 के बावजूद भी बुल मार्केट की लहर को आसानी से भांप लिया।

राकेश झुनझुनवाला ने RERA, GST, और IBC जैसे:- विभिन्न सुधारों पर उम्मीदें लगायी, जिनका लाभ आज हमारे अर्थव्यवस्था में देखा जा रहा है।

यदि आप स्टूडेंट हैं तो एनसीआरटी सॉल्यूशन के लिए ऊपर क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here