Content Writer: आपको कंटेंट राइटिंग में बनाना है करियर तो इन 7 बातों का हमेशा रखें ध्‍यान

0
28

Content Writer: डिजिटलीकरण ने युवाओं को कंटेंट राइटिंग के फील्‍ड में करियर बनाने का बड़ा अवसर दिया है। यहां पर करियर को ग्रोथ देने की बहुत अच्छे मौके हैं, बस जरूरत है सही नॉलेज की। अगर आप कंटेंट राइटर के तौर पर करियर बनाना चाहते हो तो यहां दिए गए 7 टिप्‍स आपकी मदद करेंगे।

Content Writer: डिजिटलीकरण के इस दौर में लगभग हर चीज ऑनलाइन हो चुकी है। यहां पर सुई से लेकर जहाज तक एक क्लिक में मिल जायेगा । इसका बहुत बड़ा फायदा कंटेंट राइटर्स को भी हुआ है।

Read Also-

कंपनियां उपभोक्‍ताओं को अपने प्रोडक्ट की बेहतर जानकारी देने के लिए कंटेंट राइटर्स की हेल्प ले रही हैं। इन कंटेंट राइटर्स के पास नौकरी की कमी नहीं है, हालांकि इसके लिए कुछ स्किल का होना जरूरी है। अगर आप भी इस फील्‍ड में करियर बनाना चाहते हैं तो आपको किसी भी टॉपिक पर यूनिक और प्रभावित करने वाला कंटेंट लिखने की जानकारी होना चाहिए। यह हम 7 ऐसे टिप्‍स आपको बता रहे हैं, जिसकी मदद से आप कंटेट राइटर के रूप में बेहतर करियर बना सकते हैं।

Content Writer: आपको कंटेंट राइटिंग में बनाना है करियर तो इन 7 बातों का हमेशा रखें ध्‍यान

1. पहले रिसर्च करें, फिर लिखे

कंटेंट राइटिंग के टॉपिक को तय करना एक अच्छा पॉइंट होता है। कंटेंट राइटिंग शुरू करने से पहले आप रिसर्च जरूर कर लें। रिसर्च से ही आप पता कर सकते हैं कि पाठकों की डिमांड क्या- क्या है और ऐसा कौन सा सब्जेक्ट है जिस पर आपको लिखना चाहिए। लोगों की जरूरतों को ध्‍यान में रखकर ही लिखना शुरू करना होगा ।

2. क्वालिटी वाले कंटेंट लिखें

अगर आप इस फील्‍ड में अच्‍छे करियर बनाना चाहते हैं तो हर ट्रेंड के साथ खुद को अनुकूल बनाना होगा। चाहे वो समाचार हो या सोशल मीडिया, आपको सभी टॉपिक या केटेगरी पर लिखना आना चाहिए। वेबसाइट पर पाठक अच्छी जानकारी वाले आर्टिकल ही ढूंढ़ते हैं। इसलिए हमेशा आपको क्वालिटी वाले ऐसे कंटेंट लिखने चाहिए जो पाठकों को जोड़ें रखे।

3. ट्रेंडिंग आइडिया बनाएं

यहां नये और ट्रेंडि़ग आइडिया तैयार करना सबसे बड़ी चुनौती होती है। हालांकि एक एक अच्छा कंटेंट राइटर बनने के लिए पाठकों को ट्रिगर करने वाले कंटेंट लिखना आना चाहिए। कभी भी अपने आइडियाज को प्रेजेंट करते हुये डरें नहीं। खुद से विश्लेषण करें कि कौन से ब्लॉग्स या आर्टिकल्स पाठकों को पसंद आ रहा है और कौन सा नहीं आ रहा है ।

4. कंटेंट को हमेशा यूनिक बनाये

ग्रोथ करने के लिए आपका कंटेंट नया होना चाहिए। कंटेंट राइटिंग में यूनिक होना इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि ये एसईओ के लिए बहुत जरूरी है। साथ ही इससे आपके कंटेंट की क्वालिटी बढ़ती रहती है। वहीं अगर आप डुप्लीकेट कंटेंट पोस्ट करते हैं तो गूगल उसे पहचान लेती है और फिर प्लगीरिज्म की समस्या आ जाती है।

5. सबसे आसान भाषा में लिखें।

आप कोशिश करें कि अपने कंटेंट को हमेशा आम बोलचाल के आसान भाषा में ही लिखें। इससे आपका अपने यूजर के साथ एक इंटरेक्शन हमेशा बना रहेगा। साथ ही आपके पाठकों को ऐसा लगेगा कि जैसे राइटर उससे सीधे बात कर रहा है ।
6. कंटेंट को प्रूफरीड जरूर करे।

कंटेंट राइटिंग में प्रूफरीडिंग करना सबसे अधिक जरूरी है। क्‍योंकि अगर आपके कंटेंट में गलतियां मिलेगी, तो न कोई कंपनी आपको रखना चाहेगी और न ही पाठक आप पर भरोसा कर पायेगा । इसलिए किसी भी कंटेंट को लिखने या बनाने के बाद आप जांच करना कि कहीं उस आर्टिकल में कोई गलती या कमी तो नहीं रह गयी है।

7. टेक्निकल नॉलेज में भी जरूरी है।

कंटेंट राइटिंग में बेसिक टेक्निकल नॉलेज भी बहुत जरूरी है। जैसे- कीवर्ड्स को ऑप्टिमाइज करना और एसईओ चेक कर के देखना इत्यादि। जिससे आप जरूरत पड़ने पर अपने कंटेंट को ऑप्टिमाइज कर सकते है और सीएसएस को भी वर्डप्रेस के जरिये मैनेज कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here