डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं ? | Digital Marketing in Hindi 2023

0
25

What is Digital Marketing in Hindi? – आज के जमाने में सब ऑनलाइन हो गया है। इंटरनेट ने हमारे जीवन को बेहतर बनाया है और हम इसके माध्यम से कई सुविधाओं का आनंद केवल अपने फ़ोन या लैपटॉप के ज़रिये ले सकते है।

Online shopping, Ticket booking, Recharges, Bill payments, Online Transactions (ऑनलाइन शॉपिंग, टिकट बुकिंग, रिचार्ज, बिल पेमेंट, ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स) आदि जैसे कई कार्य हम इंटरनेट के ज़रिये कर सकते है । इंटरनेट के प्रति Users के इस रुझान की वजह से बिज़नेस Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग) को अपना रहे हैं।

Digital Marketing in Hindi | डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं ? 2023

यदि हम market stats की ओर नज़र डालें तो करीब 80% shoppers किसी की product को खरीदने से पहले या service लेने से पहले online research करते है । ऐसे में किसी भी कंपनी या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग बेहद महत्वपूर्ण हो जाती है।

डिजिटल मार्केटिंग का तात्पर्य क्या हैं ? [Digital Marketing Kya Hai?]
अपनी वस्तुएं और सेवाओं की डिजिटल साधनों से मार्केटिंग करने की प्रतिक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते है। डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से ही करते हैं । इंटरनेट, कंप्यूटर, मोबाइल फ़ोन , लैपटॉप , website adertisements या किसी और के applications द्वारा हम इससे जुड सकते हैं।

1980 के दशक में सर्वप्रथम कुछ प्रयास किये गये डिजिटल मार्किट को स्थापित करने में परंतु यह सम्भव नही हो पाया था । 1990 के दशक मे आखिर मे इसका नाम व उपयोग शुरु हुआ था ।

डिजिटल मार्केटिंग नये-नये ग्राहकों तक पहुंचने का सरल माध्यम है। यह विपणन गतिविधियों को पूरा करते है। इसको ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहा जा सकता है। कम टाइम में अधिक लोगों तक पहुंच कर विपणन करना डिजिटल मार्केटिंग है। यह प्रोध्योगीकि विकसित करने वाला विकासशील क्षेत्र हैं ।

डिजिटल मार्केटिंग से उत्पादक अपने ग्राहक तक पहुंचने के साथ ही साथ उनकी गतिविधियों, उनकी आवश्यकताओं पर भी दृष्टी रखता है। ग्राहकों का झुकाऊ किस तरफ है, ग्राहक क्या चाह रहा है, इन सभी पर विवेचना डिजिटल मार्केटिंग के द्वारा की जा सकती है। सरल भाषा में बोले तो डिजिटल मार्केटिंग डिजिटल तकनीक द्वारा ग्राहकों तक पहुंचने का एक माध्यम है।

डिजिटल मार्केटिंग क्यो आवश्यक हैं ? [Importance of Digital Marketing in Hindi]
यह आधुनिक का दौर है और इस आधुनिक समय में हर वस्तु में आधुनिककरन हुआ है। इसी क्रम में इंटरनेट भी इसी आधुनिक का हिस्सा है जो जंगल की आग की तरह सभी जगह फैल रहा है। डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से काम करने में सक्षम है।

आजकल का समाज समय अल्पता से जूझ रहा है, इसलिये डिजिटल मार्केटिंग आवश्यक हो गया है। हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा है वे इसका प्रयोग हर स्थान पर आसानी से कर सकता है । अगर आप किसी से मिलने को कहो तो वे कहेगा मेरे पास टाइम नही है, परंतु सोशल साइट पर उसे आपसे बात करने में कोई समस्या नही होगी । इन्ही सब बातों को देखते हुए डिजिटल मार्केटिंग इस दौर में अपनी जगह बना रहें है ।

जनता अपनी सुविधा के अनुसार इंटरनेट के जरिये अपना मनपसंद व आवश्यक सामान बहुत आसानी से प्राप्त कर सकती है । अब बाज़ार भी जाने से लोग बचते हैं ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग बिज़नेस को अपने products और services लोगो तक पहुंचाने में मदद करती है। डिजिटल मार्केटिंग कम टाइम में एक ही वस्तु के कई प्रकार दिखा सकता है और उप्भोक्ता को जो उपभोग पसंद है वे तुरंत उसे ले सकता है। इस माध्यम से उपभोकता का बाज़ार जाना वस्तु पसंद करना, आने जाने में जो टाइम लगता है वो बच जाता है ।

यह वर्तमान काल में आवश्यक हो गया है । व्यापारी को भी व्यापार में हेल्प मिल रही है। वो भी कम टाइम में अधिक लोगो से जुड़ सकता है और अपने उत्पाद की खूबियाँ उपभोक्ता तक पहुँचा सकता है।

वर्तमान टाइम में डिजिटल मार्केटिंग की मांग – [Future of Digital Marketing in Hindi]

परिवर्तन जीवन का नियम है , यह तो आप सब जानते ही होंगे । पहले टाइम में और आज के जीवन में कितना बदलाव हुआ है और आज इंटरनेट का जमाना है । हर वर्ण के लोग आज इंटरनेट से जुड़े हुवे है, इन्ही सब के कारण सभी लोगो को एक स्थान पर एकत्र कर पाना आसान है जो पहले समय में सम्भव नही था । इंटरनेट के जरिये हम सभी व्यवसायी और ग्राहक का तारतम्य स्थापित भी कर सकते है।

डिजिटल मार्केटिंग की मांग वर्तमान टाइम में बहुत प्रबल रुप में देखने को मिल रही है। व्यापारी जो अपना सामान बना रहा है , वो आसानी से ग्राहक तक पहुंचा भी रहा है। इससे डिजिटल व्यापार को बढ़ावा भी मिल रहा है ।

पहले विज्ञापनो का सहारा लेना पड़ता था। ग्राहक उसे देखते थे , फिर पसंद करते थे , फिर वह उसे खरीदता था। परंतु अब सीधे उपभोक्ता तक सामान भेजा जा सकता है । हर व्यक्ति गूगल, फेसबुक , यूट्यूब आदि उपयोग कर रहे है, जिसके द्वारा व्यापारी अपना उत्पाद-ग्राहक को दिखाते है । यह व्यापार सबकी पहुंच में होते है- व्यापारी व उपभोक्ता की भी।

हर व्यक्ति को आराम से बिना किसी परिश्रम के प्रतयेक उपयोग की चीज़ें मिल जाती है। व्यापारी को भी यह सोचना नही पड़ता है कि वह अखबार, पोस्टर, या विज्ञापन का सहारा ले। सबकी सुविधा के मद्देनजर इसकी मांग होती है। लोगों का विश्वास भी डिजिटल मार्किट की ओरबहुत तेजी से बड़ रहा है। यह एक व्यापारी के लिये ख़ुशी का विषय है। कहावत भी है “ जो दिखता है वही बिकता है” – डिजिटल मार्किट इसका एक अच्छा उदाहरण है ।

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार:- [Types of Digital Marketing]

सबसे पहले तो आपको यह बता देते है कि डिजिटल मार्केटिंग करने के लिये ‘इंटरनेट’ ही एक मात्र साधन है। इंटरनेट पर ही हम अलग-अलग वेबसाइट के द्वारा डिजिटल मार्केटिंग कर सकते है । इसके कुछ प्रकार के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं ;–

(i) सर्च इंजन औप्टीमाइज़ेषन या (SEO)

यह एक ऐसा तकनीकी माध्यम है जो आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन के परिणाम पर सबसे ऊपर जगह दिलाता है जिससे दर्शकों की संख्या में बड़ोतरी होती जा रही है। इसके लिए हमें अपनी वेबसाइट को कीवर्ड और SEO guidelines के अनुसार बनाना पड़ता है।

(ii) सोशल मीडिया:- (Social Media)

सोशल मीडिया कई वेबसाइट से मिलकर बना हुआ है – जैसे Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn, आदि से । सोशल मीडिया के माध्यम से हर व्यक्ति अपने विचार हजारों लोगों के सामने रख सकता है । आप भली -भांति सोशल मीडिया के बारे में जानते है । जब हम ये साइट देखते हैं तो इस पर कुछ ना कुछ अन्तराल पर हमे विज्ञापन दिखते हैं यह विज्ञापन के लिये कारगार व असरदार जरिया है।

(iii) ई-मेल मार्केटिंग (Email Marketing)

किसी भी कंपनी द्वारा अपने उत्पादों को ई-मेल के द्वारा पहुंचाना ई-मेल मार्केटिंग कहलाता है। ई-मेल मार्केटिंग हर प्रकार से हर कंपनी के लिये आवश्यक है क्योकी कोई भी कंपनी नये प्रस्ताव और छूट ग्राहको के लिये समयानुसार देती हैं जिसके लिए ईमेल मार्केटिंग एक सुगम रास्ता है।

(iv) यूट्यूब चेनल:- (YouTube Channel)

सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम है जिसमे उत्पादक अपने उत्पादों को लोगों के समक्ष प्रत्यक्ष रुप से पहुंचाना है। लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रया भी व्यक्त कर सकते हैं। ये वो माध्यम है जहां बहुत से लोगो की भीड़ रह्ती है या यूं कह लिजिये की बड़ी संख्या में users/viewers यूट्यूब पर रह्ते हैं। ये अपने उत्पाद को लोगों के समक्ष वीडियो बना कर भी दिखाने का सुलभ व लोकप्रिय माध्यम है।

(v) अफिलिएट मार्केटिंग :-(Affiliate Marketing)

वेबसाइट, ब्लॉग या लिंक के माध्यम से उत्पादनों के विज्ञापन करने से जो मेहनताना मिलता है, इसे ही Affiliate Marketing कहा जाता है। इसके अन्तर्गत आप अपना लिंक बनाते हैं और अपना उत्पाद उस लिंक पर डालते हैं। जब ग्राहक उस लिंक को दबाकर आपका उत्पाद खरीदता है तो आपको उस पर मेहन्ताना भी मिलता है।

(vi) पे पर क्लिक ऐडवर्टाइज़िंग या (PPC marketing):-

जिस विज्ञापन को देखने के लिए आपको भुगतान करना पड़ता हो उसे ही “पे पर क्लिक ऐडवर्टीजमेंट” कहा जाता है। जैसा की इसके नाम से विदित हो रहा है की इस पर क्लिक करते ही पैसे कटते है । यह हर प्रकार के विज्ञापन के लिए है। यह विज्ञापन बीच में आते रहते हैं। अगर इन विज्ञापनो को कोई देखता भी है तो पैसे कटते हैं । यह भी डिजिटल मार्केटिंग का ही एक प्रकार है।

(vii) एप्स मार्केटिंग :-(Apps Marketing)

इंटरनेट पर अलग-अलग ऐप्स बनाकर लोगों तक पहुंचाने और उस पर अपने उत्पाद का प्रचार करने को “ऐप्स मार्केटिंग” कहते हैं । यह डिजिटल मार्केटिंग का बहुत ही उत्तम रस्ता हैं । आजकल बड़ी संख्या में लोग स्मार्ट फ़ोन का प्रयोग कर रहे हैं । बड़ी से बड़ी कंपनी अपने एप्स बनाती हैं और एप्स को लोगों तक पहुंचाती है।

डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिताएं ;– [Uses of Digital Marketing in Hindi]
डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिता के बारे में हम आपको बता रहे हैं: –

(i) आप अपने वेबसाइट पर ब्रोशर बनाकर उस पर अपने उत्पाद का विज्ञापन लोगों के लेटेर-बॉक्स पे भेज सकते हैं। कितने लोग आपको देख रहे हैं ये भी पता लगाया जा सकता है।

(ii) वेबसाइट ट्रेफ़िक- सबसे अधिक दर्शकों की भीड़ किस वेबसाइट पर है – पहले ये आप जान लीजिये , फिर उस वेबसाइट पर अपना विज्ञापन डाल दें ताकी आपको अधिक लोग देख सकें ।

(iii) एटृब्युषन मॉडलिंग – इसके द्वारा हम यह पता कर सकते है की आजकल लोग किस उत्पाद में रुचि ले रहे हैं या किन-किन विज्ञापनों को देख रहे हैं । इसके लिये विशेश टूल का उपयोग करना होता है जो की एक विशेश तकनीक के द्वारा किया जा सकता है और ह्म अपने उपभोक्ताओं की हरकतें यानी उनकी रुचि पर नज़र रख सकते हैं।

आप अपने उपभोक्ता से किस प्रकार सम्पर्क बना रहे हैं यह विषय बहुत महत्वपूर्ण है। आप उनकी आवश्यक्ता के साथ पसंद पर भी दृष्टी बनाकर रखा करें ऐसा करने से व्यापार में वृद्घि हो सकता है।

आप पर उनका विश्वास भी अत्यन्त आवश्यक होता है, की वह विज्ञापन देख कर आपका उत्पाद खरीदने में संकोच न करें तुरंत ले लें। इनके विश्वास को आपने विश्वास भी देना है। ग्राहक को आश्वासन दिलाना आपका दायित्व होता है। अगर किसी को सामान पसंद न आये तो उसको बदलने के लिये वो अपना संदेश आप तक पहुंचा सके इसके लिये ई-बुक आपकी सहायता कर सकता है। CA kaise bane

निष्कर्ष :-[Digital Marketing Kya hai?]
डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा माध्यम बन गया है जिससे कि मार्केटिंग (व्यापार) को बढ़ाया जा सकता है। इसके उपयोग से सभी लाभान्वित है । उपभोक्ता व व्यापारी के बीच अच्छे से अच्छा ताल-मेल बना रहे है , इसी सामज को डिजिटल मार्केटिंग द्वारा पूरा किया जा सकता है । डिजिटल मार्केटिंग आधुनिकता का एक अनूठा उद्धरण है।

आशा है की आप भी डिजिटल मार्केटिंग से लाभांवित ही होंगे। Learn Ncert Solution

यह डिजिटल मार्केटिंग कोर्स आपको वास्तविक बिजनेस परिदृश्यों के लिए पूरा तैयार करेंगे। यह डिजिटल मार्केटिंग कोर्स आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO), सर्च विज्ञापनों का उपयोग, वेबसाइट ट्रैफिक का विश्लेषण सहित और विभिन्न डिजिटल मार्केटिंग कोर्स आपको आपके बिजनेस में मदद करेगी। वह उपलब्ध कराती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here