How To Identify Crypto Currency is fake or Real must read

0
73

How To Identify Crypto Currency is fake or Real (कैसे पहचाने कौन क्रिप्टोकरंसी नकली या असली है) हेलो दोस्त नमस्कार बीते कुछ दिनों में बहुत से लोगों ने क्रिप्टोकरंसी पर बहुत अधिक मुनाफा प्राप्त की है, और बहुत से लोगों ने लॉस भी किया है,ऐसी कौन सी पैरामीटर है जिम को समझने के बाद उन्होंने क्रिप्टोकरंसी से काफी मुनाफा प्राप्त किया है।

How To Identify Crypto Currency is fake or Real must read (कैसे पहचाने कौन क्रिप्टोकरंसी नकली या असली है)

यदि पहले हमें लॉस का सामना करना पड़ा है तो उन पैरामीटर को जानने के बाद हम भी प्रॉफिट कर सकते हैं, क्या आप क्रिप्टोकरंसी के बारे में जानते हैं या तो इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं दोनों ही केस में यह पोस्ट आपके लिए काफी उपयोगी साबित होने वाली है।

जो चीज मैं इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताया हूं यदि आप उस पैरामीटर्स का इस्तेमाल करके किसी भी क्रिप्टो करेंसी में काम किया तो आपको कभी भी लॉस का सामना नहीं करना पड़ेगा तो चलिए जानते हैं कि वह महत्वपूर्ण पैरामीटर क्या है सबसे पहला (1) टेक्नोलॉजी दूसरा (2) कंप्लीट डिसेंट्रलाइजेशन तथा तीसरा (3 ) क्रिप्टोकरंसी के ग्रोथ

सबसे पहले हमको टेक्नोलॉजी के बारे जानना होगा क्योंकि क्रिप्टोकरंसी कंप्लीट डिसेंट्रलाइज्ड क्रिप्टोकरंसी होती है जिसे डिजिटल करेंसी भी बोलते हैं।

यह टोटली जो क्रिप्टो करेंसी हैं, इसका बेस जो है टेक्नोलॉजी है इसलिए टेक्नोलॉजी को वेरीफाई करना बहुत जरूरी है और कंप्लीट डिसेंट्रलाइज होना क्योंकि डिसेंट्रलाइज क्रिप्टो करेंसी किसी के कंट्रोल में नहीं रहती यदि किसी के कंट्रोल में रहेगी तो उसको सेंट्रलाइज कहेंगे

लेकिन इसका प्रोटोकॉल ही डिसेंट्रलाइज है और तीसरी चीज ग्रोथ ग्रोथ के लिए हमें क्रिप्टो करेंसी में क्या चीजें देखनी होती है तो आइए दोस्तों एक-एक करके इन तीनों के बारे में विस्तृत जानकारी हासिल करते हैं

How To Identify Crypto Currency is fake or Real in globle market

(1) टेक्नोलॉजी

हम सभी जानते हैं किसी भी क्रिप्टो करेंसी का बेस टेक्नोलॉजी है क्रिप्टो करेंसी को ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर बनाया जाता है, आप या हम जैसे जितने भी क्रिप्टो करेंसी यूज़र हैं सभी किसी न किसी वेबसाइट या एप्स का प्रयोग करते हैं।लेकिन वेबसाइट या एप्लीकेशन जिसमें हम ट्रांजैक्शन करते हैं।

क्या वह ब्लॉकचेन पर बने हैं या सिंपल ऑर्डिनरी सॉफ्टवेयर है। इसके बारे में एक साधारण आदमी जिसको जानकारी नहीं है। उसको समझना बहुत मुश्किल होता है। सभी क्रिप्टोकरंसी ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर बना है।

ब्लॉकचेन पर अगर क्यों बना है बना है यदि बना है ब्लॉकचेन पर यदि क्रिप्टो बना है। तो या जेनुइन है तो कैसे जानेंगे ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बारे में आज क्रिप्टो मार्केट के अंदर बहुत से पॉपुलर ब्लॉकचेन है।

जैसे एथेरियम , ट्रोन स्मार्ट चेन, बाइनांनस के द्वारा बनाया गया , ओमनी लेयर है, नियो है 95% क्रिप्टो करेंसी इन्हीं पॉपुलर ब्लॉकचेन पर बनी हुई है और अगर आपको पता है किसी क्रिप्टोकरंसी अदर ब्लॉकचेन पर बनी है तो उसके ब्लॉकचेन एक्सप्लोरर पर जाकर क्रिप्टो करेंसी को जांच पड़ताल कर सकते हैं।

क्या वह एक्चुअल में सॉफ्टवेयर पर है, या एक एक्चुअल में ब्लॉकचेन पर है। हर ब्लॉकचेन के कुछ अपने स्टैंडर्ड होते है अब हम जानेंगे उन ब्लॉकचेन के स्टैंडर्ड के बारे में

Standards Of Crypto Currency
Ethereum:-
1. ERC-20
2. ERC-165
3. ERC-721
4. ERC-223
5. ERC-621
6. ERC-777
7. ERC-827
8. ERC-884
9. ERC-864
10. ERC-1155

इन सभी के अलग-अलग फायदे हैं कुछ प्रोटोकोल फंगीबल है. कुछ प्रोटोकोल नॉन फंगीबल है यानी कि एनएफटी NFT (non-fungible tokens) है जिन्हें exchange नहीं किया जा सकता, दुनिया की सबसे पॉपुलर एप्लीकेशन में जोकि मल्टी यूटिलाइजेशन है,

How To Identify Crypto Currency

जिसका API का इंटीग्रेशन बहुत ही आसान है, और सबसे ज्यादा क्रिप्टोकरंसी उसी प्रोटोकॉल पर बनी है, यानी कि ERC-20 पर, सभी प्रोटोकॉल के अलग-अलग फायदे हैं इसी तरीका से tron के ब्लॉकचेन और Binance के ब्लॉकचेन पर भी है।

इसी तरीका से हर ब्लॉकचेन के अंदर स्टैंडर्ड होता है प्रोटोकॉल का जिसके ऊपर क्रिप्टो करेंसी को बनाया जाता है। किसी के मुंह से आपने जरूर सुना होगा की कुछ ब्लॉकचेन है जो फीस नहीं लेती हैं।

फीस का ना होना क्रिप्टो करेंसी की सक्सेस को नहीं दिखाता, फीस का होना भी क्रिप्टो करेंसी का सक्सेस नहीं दिखता , लेकिन यह हमें अपने दिमाग से समझना होगा की किस प्रोटोकॉल से बनी क्रिप्टोकरंसी मार्केट में सबसे पॉपुलर क्रिप्टो करेंसी है।

जो आने वाली टेक्नोलॉजी और एक टेक्नोलॉजी जो आज हम जी रहे हैं, और एक टेक्नोलॉजी जो अभी आनी है तो वह क्रिप्टो करेंसी आने वाले दिनों में भी अपने आप को समय साथ एडजेस्ट या अपडेट कर लेंगे

किसी भी क्रिप्टोकरंसी को अच्छी तरीका से समझने के लिए उसके ब्लॉकचेन की ब्लॉकचेन एक्सप्लोरर पर जाना होगा जैसे एथेरियम का अपना एक्सप्लोरर होता है। ट्रोन अपना एक्सप्लोरर है तथा binance का भी अपना एक्सप्लोरर होता है।

Blockchain Explorer
Ethereum – www.etherscan.io
Trone – www.tronscan.org
Binance – www.bscscan.com

यदि किसी भी क्रिप्टोकरंसी को आईडेंटिफाई करना हो या उसके बारे में डिटेल जानकारी प्राप्त करना हो तो देखिये की वह इन पॉपुलर ब्लॉकचेन पर लिस्ट है।

की इन ब्लॉकचेन के ऊपर बनी है या नहीं बनी है, या सिर्फ डमी ही लिखा गया है तो इसको जानना बहुत ही आसान है, आप इनके वेबसाइट पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते है। जिसका लिंक नीचे दिया गया है

Blockchain Explorer
Ethereum – www.etherscan.io
Trone – www.tronscan.org
Binance – www.bscscan.com

किसी भी क्रिप्टोकरेन्सी का डिटेल जानकारी इन साइट में जाकर चेक कर सकते है। यदि कोई क्रिप्टोकरेन्सी एथेरेयम पर बना है तो हम एथेरियम के ब्लॉकचेन एक्स्प्लोरर पर चेक करेंगे उसी तरह से यदि वह क्रिप्टो करेंसी ट्रोन पर बना है तो ट्रोन के ब्लॉकचेन एक्स्प्लोरर और अगर binance पर बना है तो हम binance के ब्लॉकचैन एक्स्प्लोरर पर जाकर आसानी से उस क्रिप्टोकोर्रेंसी के बारे सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते है.

उदाहरण के द्वारा समझते हैं अगर आप www.tronscan.org पर जाते हैं तो क्या होगा किसी भी क्रिप्टोकरंसी जो Trone पर बनी है सर्च बॉक्स में सिर्फ उनका नाम लिखें फिर उसका पूरा डिटेल आ जाएगा

उदाहरण के लिए सर्च बॉक्स में एथेरियम लिखने पर एथेरियम का कंप्लीट डिटेल आपको उस साइट पर दिखाई देगी इसी तरीके से जो भी क्रिप्टो करेंसी बनी है उन सभी का सम्पूर्ण डिटेल मिल जाएगी

क्रिप्टो करेंसी के डिटेल में वह क्रिप्टो करेंसी कब क्रिएट हुआ है उसका टोटल सप्लाई कितना है। इस तरह की सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको मिल जाएगी

यदि किसी भी क्रिप्टो करेंसी का इस तरह से नाम चेक करने पर इन साइट पर नहीं दिखाई देती है तो आप समझ जाइए की वह क्रिप्टो करेंसी नाम का क्रिप्टो करेंसी है

यदि आप Blockchain Explorer के बारे में नहीं जानते है तो और भी आसान तरीका है जिनके माध्यम से किसी भी क्रिप्टो करेंसी की टेक्नोलॉजी के बारे में जानने के लिए दोस्तों मार्केट में 4 लाख से भी ज्यादा क्रिप्टो करेंसी हैं और नए-नए क्रिप्टोकरंसी हर रोज आते जा रहे हैं।

लेकिन एक प्लेटफार्म है, जिसके माध्यम से आप किसी भी क्रिप्टो करेंसी के टेक्नोलॉजी को आसानी से समझ सकते हैं उस साइट का नाम है- www.coinmarketcap.com यहां वह प्लेटफार्म है जहां पर वही क्रिप्टो करेंसी रजिस्टर होते हैं .

जो टेक्निकल रूप से पूर्णतः सही होते हैं 4 लाख से भी ज्यादा क्रिप्टो करेंसी में से केवल 9000 क्रिप्टोकोर्रेंसी ही टेक्नीकल टर्म को सही रूप में पूरा कर रहे है

क्रिप्टो करेंसी भले कितनी ही हो इस टेक्नोलॉजी की दुनिया में जो क्रिप्टो करेंसी टेक्निकल पैरामीटर को पूरा नहीं करती है वह फेक क्रिप्टो कर्रेंसी है , और जो क्रिप्टो करेंसी टेक्निकल पैरामीटर को पूरा करती है वही असल क्रिप्टोकोर्रेंसी है

किसी भी क्रिप्टो करेंसी को कॉइन मार्केट कैप पर रजिस्टर होने के लिए उनकी पूरी डिटेल मांगी जाती है तभी जाकर वह रजिस्टर हो पाता है इसे साबित हो जाता है कि वह सही क्रिप्टो करेंसी है.

How To Identify Crypto Currency

(2) कंप्लीट डिसेंट्रलाइजेशन

जब क्रिप्टो करेंसी को पूरा डिसेंट्रलाइज क्रिप्टो करेंसी कहा जाता है तो यह डिसेंट्रलाइज क्या है आज 95% क्रिप्टो करेंसी फ्री माइंन बनते हैं। जो बनने के बाद POS ( Proof Of Stske ) होती है, Proof Of Stske का मतलब है की वह क्रिप्टोकोर्रेंसी बनने के बाद वह वॉलेट में होती है, और वॉलेट जिसके कण्ट्रोल में है वह करेंसी उसके कण्ट्रोल में है,

लेकिन इसे बोला जाता है डिसेंट्रलाइज क्रिप्टो करेंसी, मतलब वॉलेट में क्रिप्टो करेंसी है वह डिसेंट्रलाइज है लेकिन इस assets का जो मूवमेंट है वह डिसेंट्रलाइज नहीं हुआ है, तो डिसेंट्रलाइज कब होता है,

जब यह वॉलेट किसी भी Exchange के ऊपर लिस्ट कर दिया जाता है तब वह POS ( Proof Of Stake ) से POW (Proof Of Work ) बन जाती है जब वह एक्सचेंज पर लिस्ट हो जाती है तब उन्हें Buy और Sell कर सकते हैं और कितनी भी quantity में यह Buy Sell किया जा सकता है, तब जाकर किसी भी क्रिप्टो करेंसी डिसेंट्रलाइज हो जाता है।

क्योंकि एक्सचेंज पर लिस्ट होने के बाद वह किसी के कंट्रोल में नहीं होती है, इसलिए उस क्रिप्टो करेंसी को कभी भी खरीदा और बेचा जा सकता है। इस तरह से वह क्रिप्टोकरंसी पूरी तरह डिसेंट्रलाइज हो जाती है।

एक्सचेंज पर आने का मतलब यह भी होता है कि वह ब्लॉकचेन पर बना है और सभी टेक्निकल पैरामीटर पास करके लिस्ट हुआ है.

(3 ) क्रिप्टोकरंसी के ग्रोथ

ग्रोथ के लिए हमें क्या देखना चाहिए क्रिप्टो करेंसी में चलिए इसके बारे में भी पूरी जानकारी हासिल करते हैं। भले ही मान लिया टेक्नोलॉजी में सबसे बेस्ट क्रिप्टो करेंसी है डिसेंट्रलाइजेशन के अंतर्गत वाह नंबर वन एक्सचेंज पर लिस्ट है या दुनिया की बेस्ट ब्लॉकचेन पर क्यों न हो.

लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि वह सफल और अच्छा क्रिप्टो करेंसी है, ये सब तो बेसिक requirements है पहले की अगर आपके पास एक लग्जरी गाड़ी है जो बाउट बेस्ट है लेकिन उसमे तेल नहीं है , टायर नहीं है तो वह गाड़ी किसी काम की नहीं है।

इसी तरीका से उस गाड़ी को रोड तक पहुंचने के लिए टेक्निकल पैरामीटर का होना बहुत जरूरी होता है।

ग्रोथ के लिए किसी भी क्रिप्टोकरंसी की 3 चीजों का होना बहुत जरूरी होता है वह है, यूटिलाइजेशन (Utilization), सर्कुलेशन (Circulation) और सप्लाई तथा डिमांड (Supply and Demand) का होना बहुत जरुरी है।

जब किसी क्रिप्टोकरेन्सी की यूटिलाइजेशन बढ़ेगी तो उसकी सर्कुलेशन (Circulation) में बृद्धि होगी और जब सर्कुलेशन बढ़ेगी तो उस क्रिप्टोकरेन्सी की Demand बढ़ेगी और जब Demand बढ़ेगी और Supply कम है तो उसका प्राइस जरूर बढ़ेगी।

लेकिन अगर Supply अधिक होगी तो उसका प्राइस बढ़ेगा जरूर पर वह मार्किट में टिक नहीं पायेगा तो आप समझ गए होंगे की एक सही क्रिप्टोकरेंसी किस तरह से पहचाना जाता है।

यदि आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इस पोस्ट को जरूर लोगों के साथ शेयर करें यदि कुछ जानकारी बाकी रह गया है तो कमेंट करके जरूर बताएं मैं उन्हें भी कवर करने की कोशिश करूंगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here