धन से लाभ व नुकसान (profit and loss of money)

0
85

धन से लाभ व नुकसान (profit and loss of money) के इस पोस्ट में आप सभी को धन के लाभ और हानि के बारे में विस्तार से बताया गया है, जिन्हें पढ़ने के बाद आप धन के महत्व और उनके उपयोगिता के बारे में पूरी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेंगे, इसलिए इस पोस्ट को पूरा ध्यान से अध्ययन करें तो चलिए शुरू करते हैं-

धन से लाभ व नुकसान (profit and loss of money)

अपने जीवन को संतुष्टि पूर्ण तरीके से जीने के लिए मनुष्य के लिए धन का होना बहुत ही महत्वपूर्ण हो जाता है। जिस प्रकार से प्रकृति के सभी स्थानों पर पेड़ एवं  पशु पाए जाते हैं, उसी तरह से  हमें और आप सभी को भी हर जगह धन की आवश्यकता पड़ती  है।

हमें समाज में रहने के लिए, हमें समाज में अपने पद या ओहदा और अपनी  स्थिति को बनाए रखने के लिए भी धन की आवश्यकता होती ही है। यहाँ तक की खाना खाने या पानी पीने, कपड़े पहनने, स्कूल में प्रवेश लेने तक के लिए, दवा लेने के लिए या अस्पताल में अपना इलाज कराने के लिए या फिर कहे तो अन्य कई  गतिविधियों के लिए, हमें बहुत अधिक धन की आवश्यकता पड़ती है।

हमारे सामने अब यह सवाल उठता है, कि इस आवश्यक धन को किस प्रकार से  प्राप्त किया जा जाए है। इसके लिए हम सभी को उच्च स्तरीय पढ़ाई और कठिन मेहनत करने की जरुरत है ताकि, हम सभी को अच्छी नौकरी प्राप्त हो सके या फिर हम सभी अपना स्वयं का बिजनेस खोल सके, जिसके लिए हम सभी को अधिक कौशल और अपने आप में आत्मविश्वास की आवश्यकता बहुत जरुरी है।

धन से क्या लाभ होता है ?

1. सम्मान पूर्ण जीवन के लिए :

हमें से किसी भी व्यक्ति का समाज में सम्मान तभी होता है, जब वह व्यक्ति आर्थिक रुप से समृद्ध या धनी  होता है। उसके पास यदि धन नहीं है तो आज के समाज में उस व्यक्ति की कोई इज्जत नहीं है।

2. शुद्ध और पौष्टिक भोजन के लिए:

जिस व्यक्ति के पास धन है वह  तरह-तरह के स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजनों का आनंद अपने परिवार के साथ ले सकते है। और खुद को बीमारियों से बचाने में सक्षम होते है।

3. अपनी सुरक्षा के लिए है:

आजकल के वर्त्तमान समय पर समाज में चोरी, डकैती बहुत अधिक बढ़ गयी है, और अमीर/ धनी   व्यक्ति धन की वजह से अपने लिए सुरक्षा आसानी से प्रदान कर सकते है।

4. कर्ज चुकाने के लिए :

किसी व्यक्ति से लिया गया ऋण या  कर्ज गरीब व्यक्ति की अपेक्षा अमीर व्यक्ति बहुत ही आसानी से कर्ज चुकता कर सकता है।

5. भौतिक सुखों का भोग प्राप्त करने के लिए :

अपने पास पर्याप्त मात्रा में धन होने पर सभी भौतिक सुखों का भोग आसानी से  किया जा सकता है, जैसे-अपने लिए अच्छा मकान लेना, अच्छे कपड़े खरीदना, कारें और अन्य कई तरह के दूसरी चीजे खरीदने के लिए ।

6. अमीरों का गरीबों पर दबाव बनाने के लिए 

हम सभी जानते है की पहले, अमीर लोगों के अत्यधिक  दबाव के कारण गरीबों की स्थिति काफी  दयनीय थी। कुछ धनी लोग  गरीब लोगों की मदद नहीं करते थे और उन्हें बहुत ही कम वेतन पर रख कर केवल अपने नौकर की तरह इस्तेमाल करते थे।

परन्तु  अब सरकार के नए नियम और कानून  के लागू होने के बाद गरीबों की स्थिति में पहले की अपेक्षा काफी कुछ सुधार हुआ है, चूकि  सरकार ने गरीबों की स्थिति में और अधिक सुधार करने के लिए समानता के अधिकार को लागू किया है।

जिसके वजह से अब सभी को उच्च शिक्षा प्राप्त करने एवं  अच्छी नौकरी प्राप्त करने के लिए समान अवसर प्रदान किये गए है। आज बहुत से लोग सोचते हैं, कि धन लोगों के मन में बुराई को जन्म देता है।  परन्तु मैं ऐसा नहीं मानता हूँ क्योंकि सोच मनुष्य के शरीर की एक क्रिया होती है, न कि धन की।

निष्कर्ष

मैं यह समझता हूँ और मानता हूँ कि, धन का होना मनुष्य की खुशियों की बहुत महत्वपूर्ण साधन है, जिस के वजह से भगवान द्वारा हम सभी को उपहार में दिया गया है।और यह मानव के मस्तिष्क पर ही निर्भर करता है कि, वह इसे किस तरह से प्रयोग में लेता है।

कुछ  मनुष्य  इसे केवल अपनी भौतिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए भर  प्रयोग करते हैं और वे इसे कभी भी अपने दिल से नहीं लेते लेकिन , हमें से  कुछ लोग धन को ही अपना सब कुछ मानने लग जाते  हैं और वे अधिक धन प्राप्त करने के लिए कुछ भी करने को मजबूर हो जाते हैं।

इसकी प्राप्ति के लिए वे लोग हत्या, चोरी, डकैती, भ्रष्टाचार, रिश्वत लेना आदि जैसे कई प्रकार के आपराधिक कार्य करने के लिए उतारू हो जाते हैं।

ऑनलाइन पैसा कमाने की विभिन्न तरीका को यदि आप जानना चाहते हैं तो यहां पर क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here