100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर (100+ Top Insurance Questions Answer)

0
29

100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर (100+ Top Insurance Questions Answer) अगर आप एक जीवन बीमा एजेंट बनना चाहते है, या बीमा से सबंधित कुछ भी जानना चाहते है तो आपके लिए इस पोस्ट बीमा से सबंधित जो भी सवाल है उन सभी सवालों को कवर किया गया है जो काफी महत्त्व पूर्ण है, इस पोस्ट को पूरा अध्ययन करने के बाद आपको बीमा से सबंधित जो भी सवाल है वह सॉल्व हो जायेंगे , तो चलिए उन सवालों को एक एक करके देखते है –

100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर (100+ Top Insurance Questions Answer)

बीमा से आप क्या समझते हैं?

बीमा (इंश्योरेंस) उस साधन को कहते हैं जिसके द्वारा कुछ शुल्क (जिसे प्रीमियम कहते हैं) देकर हानि का जोखिम दूसरे पक्ष (बीमाकार या बीमाकर्ता) पर डाला जा सकता है। जिस पक्ष का जोखिम, संकट, आशंका, जोखिमी काम, विपत्ति, ख़तरा ( risk )बीमाकर पर डाला जाता है, उसे ‘बीमाकृत’ कहते हैं।

राइडर ( RIDER ) क्या है?
किसी भी पालिसी के साथ लिया गया अन्य लाभ जैसे – दुर्घटना के लिए आन्तरिक लाभ , बीमारी के लिए या अन्य कई राइडर पालिसी मैं जोड़े जा सकते है, कम राशी पर अधिक लाभ लेने के लिए। दुसरे शब्दों मैं हम कह सकते है की राइडर जो है वो पालिसी के लाभ तथा हानि को आकलन करता है।

बीमा क्या है बीमा के प्रकार?

बीमा के प्रकार:-
1. जीवन बीमा
2. ऑटो मोबाइल बीमा
3. स्वास्थ्य बीमा
4. यात्रा बीमा
5. गृह बीमा

प्रस्ताव पत्र ( PROPOSAL FORM ) क्या है?
यह आवेदन पत्र है जिसे भरकर ( अपनी पूरी जानकारी ) पालिसी खरीदते है, या अगर आप कोई भी Insurance की पालिसी को खरीदते है।

बीमा करना क्यों आवश्यक है?

बीमा अवधि के दौरान यदि बीमित व्यक्ति की किसी तरह से मृत्यु हो जाने या किसी दुर्घटना के कारण अपंग हो जाने की स्थिति में जीवन बीमा उत्पाद, एक निश्चित मात्रा में उसको धनराशि प्रदान करते हैं। प्रमुख रूप से कोई भी ऐसा व्यक्ति जिसके परिवार के लिए उसका सहारा होता है तथा वह आय अर्जित करता हो, उसके लिए जीवन बीमा आवश्यक हो जाता है।

जीवन बीमा परीक्षा प्रश्न व उत्तर

बीमाकर्ता ( कम्पनी ) क्या है?
जो पालिसी दे रहे है क्लेम दे रहे है जैसे – टाटा, बिरला , LIC बीमा कम्पनी आदि

ULIP (यूलिप ) क्या है?

यह वह बीमा योजना है जिसका सम्बद्ध शेयर बाज़ार से होता है। जिसके अंदर धन के जोखिम ( पैसे की वर्धि या कमी ) उपभोक्ता द्वारा वहन की जाती है। NAV-NET Asset VALUE शुध अस्ति मूल्य -ULIP में पैसे का लेनदेन NAV के रूप में होता है NAV खरीदने को OFFER PRICE कहते है। NAV बेचने को BID PRICE कहते है।

बचत उत्पाद क्या है।

जिसके द्वारा व्यक्ति धन बचाता हैजैसे बैंकिंग उत्पाद RD ,FD बचत खाता आदि , पोस्ट ऑफिस उत्पाद -RD ,FD ,KVP ,NSC , Maturity फण्ड -शेयर बाज़ार के आधीन CORPORATE BOND -एक प्रकार की FD निश्चित ब्याज दर पर ,शेयर -बाज़ार जोखिम के अधीन , मैटल धातु ,सोना चांदी ,जीवन बीमा आदि।

प्रशअभिकर्ता (AGENT ) क्या है?
जो कम्पनी और ग्राहक के बीच का सलाहकार है, या जो एजेंट किसी भी बीमा कम्पनी के साथ जुडा है और वो उस कम्पनी का प्रोडक्ट बेचता है उसी को हम एक बीमा एजेंट कहते है।

बीमा के मूलभूत सिद्धांत कौनसे है?

(i) बीमा धारक को एक विशिष्ट जोखिम (जिसके लिए बीमा प्रभावित होता है), जैसे:- आग से हुए हानि के खिलाफ हुए नुकसान को पूरा करने के लिए,
(ii) बीमित व्यक्ति या तो उसके लाभार्थियों को निर्दिष्ट घटना जैसे बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने पर पूर्व-निर्धारित राशि का भुगतान करना।

बीमाधन ( SUM ASSURED ) क्या है?

बीमा राशी जीवित रहने पर पालिसी धारक को दिया जाता है और मरने के बाद जो उसका GRANTER ( नॉमिनी ) होता है उसे दिया जाता है।

परिपवक्ता (MATURITY ) क्या है?
अगर कोई व्यकित बीमापूरा ख़त्म हो जाता है और जीवित रहता है तो उसको वो बीमा का पूरा अमाउंट दे दिया जाता है, पालिसी के हिसाब से दिया जाता है।

100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर

100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर
100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर

इंश्योरेंस कैसे होता है?
एक होल लाइफ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के समय सबसे पहले सम एश्योर्ड निर्धारित किया जाता है। खरीदे जाने के बाद एक नॉमिनी (नामिती) का उल्लेख किया जाता है। किसी भी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के मामले में उन्हें डेथ क्लेम एवं बोनस, यदि लागू होता हो, का भुगतान किया जाता है।

आई .आर .डी .ए ( IRDA) क्या है?
बिमा विनायक विकास प्राधिकरण |

बीमाकन ( UNDERWRITING ) क्या है?
प्रस्ताव की जाच करना (प्रस्ताव आंकलन ) किसको पालिसी देना है किसको नही इसका काम यह होता है, की आप कोई बीमा करते है तो उस पालिसी की जाँच किया जाता है, की ये पालिसी लेने के लिए सही है, या नही इसको पालिसी देनी चाइये या नही इसी को हम बीमाकन कहते है।

चिकत्सा रेफ्री( MEDICAL REFEREE ) क्या है?
यह डॉक्टर की टीम है , जो अधिक जोखिम वाली पालिसी में चिकित्सा जांच की रिपोर्ट तैयार करता है | इस कार्य को करने के लिए कंपनी के कर्मचारी नहीं है |

ओम्बडर्समेन ( OMBUDSMAN ) क्या होता है?
यह एक लोपाल है जहा पोलिसि धारक और कंपनी के बीच होने वाले विवादों को सुलझाया जाता है | जिसकी सीमा 20 लाख रुपए तक होती है और विवादों का निपटारा 90 दिनों में होता है , इसके निर्णय को माने के लिए कंपनी बाध्य है, किन्तु पालिसी धारक नहीं | पालिसी धारक एक बार में सिर्फ एक ही मंच में जा सकता है | अधरात यदि उसका केस किसी अन्य कोर्ट या किसी अन्य मंच में चल रहा है, तो यह ओम्बडर्समेन के पास याचका नहीं डाल सकता |

100+ Top Insurance Questions Answer in hindi

अनुग्रह अवधि ( GRACE PERIOD ) क्या है?
पालिसी की किस्त निश्चित तारीख में न निपटाने पर अतरिक्त अवधि होना – वार्षिक – अर्ध्वार्सिक – तिमाही में एक माह और मासिक में 15 दिन |

वय्पगत ( LAPSE ) क्या है?
प्रीमियम न चुकाने पर पालिसी का रुक जाना |

पालिसीधारक ( पालिसी होल्डर ) क्या है?
जिसके नाम की पालिसी है या अगर आप ने कोई पालिसी ली है और आपने नाम है तो आप एक पालिसी होल्डर हो।

उपखंड ( CLUASE ) क्या है?
यह एक परकार की धारा है जो जायदा जोखिम वाले व्यक्ति पर लगाया जाता है | जेसे जायदा जोखिम वाले वयाव्साए पर , कार्य छेत्र , जटिल बिमारी आदि | एक बार यह धारा लगने पर पालिसी की पूरी अवधि चलती रहती है |

ग्रहणाधिकार ( LIEN ) क्या है?

बीमा ने कुछ निश्चित अवधि के लिए पालिसी अवधि को ध्यान में रखकर मृत्यु दावे पर सरते लगायी जाती है | बिमाकनकर्ता पर निर्भर करता है |

पुन्जिवन ( REVIVAL ) क्या है?
लेप्स पालिसी को फिर से चालु करवाना |

नामित ( NOMINEE ) क्या है?
बीमित का उतराधिकारी , मृत्यु के बाद जिसको दावा राशि प्राप्त होती है |

पृष्ठकन ( ENDORSEMENT ) क्या है?
यह एक प्रक्रिया है, जो किसी एक परकार के परिवर्तन के लिए भरा जाता है , जेसे – नाम , पता , मोबाइल नंबर , मोड या कोई दूसरा |

100+ Top Insurance Questions Answer – in hindi

सम्नुदेसन ( ASSIGNMENT ) क्या है?
सव्य की पालिसी अधिकार को दुसरो को बेच देना , या गिरवी रख देना या दान कर देना की पर्करिया | पोलोसी देने वाला – सम्नुदेसक , पोलोसी लेने वाला सम्नुदेस्ती |

सविंदा ( CONTRACT ) क्या है?
चूँकि पालिसी एक सम्पन्ति है, इसलिए , पोलिसि धारक और कंपनी के बीच एक कानून सविक्रती बिना सर्त के होती है , जिसे सविंदा कहते है |

बीमाकनकर्ता (UNDERWRITER ) क्या है?
प्रस्ताव पर जोखिम आंकलन करने वाला जब भी कोई पालिसी की जाती है तो इसका काम यही रहता है।

लोन (LOAN ) क्या होता है?

समप्रमन मूल्य का 90% होता है, ULIP पालिसी पर लोन नही मिलता है।

विवाहित नारी सम्पति अधिनियम क्या होता है?
( M. W.P.ACT ) सिर्फ पतनी , बचों को विसेस कानून द्वारा नामित बनाया जाता है |

प्रस्तावक ( Proposer ) क्या है?
वो इंसान जो पालिसी खरीदने के लिए प्रस्ताव करता है, या अगर आप कोई पालिसी करते है तो आप एक प्रस्तावक है।

जोखिम एव आपदा (RISK AND PERILS ) क्या है?
जोखिम किसी अप्रिय घटना का घटित होना, जोखिम आपदा के प्रचलन पर असर डालता है |यदि फेफड़ो का केंसर एक जोख़िम है, तो ध्रूमपान एक आपदा हो सकती है |

सर्वेयर (करोनर ) (INVESTIGATOR) क्या है?
जो दुर्घटना एव बड़े दावे निपटाने के लिए जांच करता है, तथा बाहरी तत्व से जानकारी प्राप्त करता है |

नयसी ( TRUSTEE ) क्या है?
जिसको विसेस कानून द्वारा नामित बनाया जाता है , मृत्यु का दावा इसी के नाम पर आता है |

100+ टॉप बीमा से संबंधी क्वेश्चन आंसर (100+ Top Insurance Questions Answer)

परम सद्भावना ( UTMOST GOOD FAITH ) क्या है?
बीमा धारक को पालिसी लेते समय अपनी सारी जानकारी प्रस्ताव पत्र पर भर कर देनी होती है | कंपनी इसको पूर्णतः सही मानती है | अगर इसमें कोई गड़बड़ जानकारी जान्भुजकर भरी है या जानकारी भरी ही नहीं है | तो मृत्यु दावा निपटाने पर बाधा आएगी | जिसकी अवधि पोलासी सुरु होने की तिथि से अगले 24 माह तक होती है |

बिमा योग्य हित ( INSUREABLE INTEREST ) क्या है?
इसका आशय है , आप बिमा सिर्फ उसी का ले सकते है , जो आपका खुद का हो अर्थात जिसके जीवत रहने पर आपका फायदा हो | और जिसकी मृत्यु से आपको नुक्सान |

भोतिक जोखिम ( PHYSICAL RISK ) क्या है?
शारीरिक सरचना व्यवसाय से जुड़े जोखिम पुरुष अथवा स्त्री |

मोचन निषेध ( FORECLOSURE ) क्या है?
ऋण ब्याज समपर्ण मृत्यु के बराबर होने पर मानव निषेध |

जोखिम प्रतिधारण ( RISK RETENTION ) क्या है?
अपना जोखिम को सव्य ही वहन करना अधार्थ बिमा न करना |

जोखिम हस्तातर्ण ( RISK TRANSFER ) क्या है?
अपना जोखिम को किसी और पर डाल देना अधार्थ बिमा कंपनी को दे देना |

मनुष्य जीवन मूल्य ( HUMAN LIFE VALUE) क्या है?
जिसकी जितनी वार्षिक आय अधिक है उसकी उतनी कीमत है, किन्तु बीमा के अनुसार वार्षिक आय का 20 गुना होता है, भविष्य की आय को वर्तमान में जोड़ना होता है।

और पढ़े –LOAN :- लोन कैसे प्राप्त करे | लोन लेते समय क्या सावधानी बरतनी चाहिए

चुकता मूल्य (PAIDUP VALUE ) क्या है?
दिए गया प्रीमियमो की संख्या X बीमाधन +बोनस /कुल प्रीमियम देने की संख्या

सतिपुरती ( INDEMNITY ) क्या है?
यह सिधान्त जीवन बिमा में नहीं होता अधिक लाभ की अनुमति नहीं देता है |

कालातीत (REJECT ) क्या है?
बीमा के पूर्ण जीवन के समय निकलने के बाद यदि पालिसी को पूर्ण जीवित नही कराया जाता है, तो पालिसी समाप्त हो जाएगी।

एक्चुरी ( ACTUARY ) क्या है?
यह कम्पनी का अधिकारी है – जो कम्पनी के लाभ व् हानि और बोनस की गणना करता है।

प्रथम प्रीमियम रिसीप्ट ( FIRST PREMIUM RECEIPT )
प्रथम प्रीमियम रसीद के बाद की सारी रसीदे है।

निवेश प्राथिमिकता –
(1) उच्च प्राथमिकता तुरत निवेश आवश्यक ,
(2) मध्य प्राथमिकता थोडा निवेश शुरू करना चाहिए ,
(3)निम्न प्राथमिकता भविष्य मैं निवेश हेतु सोच कर रखे

निस्पाधन का सामर्थ्य क्या होता है?
सविदो के दोनों पक्षकारो में निष्पादन की समता तथा योग्यता होनी बहुत जरुरी है |

सयुक्त जीवन बीमा ( JOINT LIFE POLICY ) क्या है?

दो व्यक्तियों की पालिसी एक में लेना यह केवल पति-पत्नी और साझेदारी के लिए ही है।

औघोघिक बीमा ( INDUSTRIAL POLICY ) क्या होता है?
निम्न आय वर्ग के लोगो के लिए जो किसी उघोग मैं काम करते हो उसके लिए।

सूक्ष्म बीमा ( MICRO INSURANCE ) क्या है?
जीवन बीमा पर 5/- हजार से 50/- हज़ार एक इसे दो प्रकार के अभिकर्ता बेच सकते है IRDA द्वारा पास अभि कर्ता ( अपराधी , अवयस्क , पागल अभिकर्ता नही बन सकते (2) NGO ग्रामीण बैंक निम्न वर्ग के लिए प्रीमियम भुगतान साप्ताहिक भी मान्य होगा।

बीमा इतिहास ( INSURANCE HISTORY ) क्या है?
भारतीय जीवन बीमा अधिनियम 1912 में बना , बीमा अधिनियम 1938 में बना , भारतीय जीवन बीमा निगम 1 सितम्बर 1956 में बना , बीमा विनियामक विकास प्राधिकरण IRDA 1999 में बना और 2000 मैं लागू हुआ , M.W.P एक्ट 1874 मैं , ENAY मनी लांड्रिंग एक्ट 2002 में बना।

जीवन चक्र ( LIFE CYCLE ) क्या है?
बचपन (0 से 17 वर्ष ), अविवाहित युवा (18 से 35 वर्ष , विवाहित युवा (26 से 30 तक ), सन्तान के साथ पिता (31 से 35 वर्ष ), बडती संतान के साथ पिता (36 से 45 वर्ष ), सेवानिर्वित से पूर्व (46 से 59 साल) सेवा के बाद 60 वर्ष से मरने तक।

इनकम टैक्स एक्ट 1961 क्या है?
( INCOME TAX ACT ) (1 ) 80 C जीवन बीमा मैं निवेश मैं छूट 150000 तक (2 ) 80D स्वास्थ्य बीमा की राशी पर छूट पर 15000 तक और माता पिता के लिए लेने पर 20000 तक ( 10D) बीमा से मिलने वाला धन वो कर मुक्त होगा

टर्म इन्शुरन्स क्या है?

टर्म इंश्योरेंस असली सुरक्षा जीवन बीमा का एक प्लान है, जो पॉलिसी के अवधि के दौरान बीमाकृत व्यक्ति की तत्काल मृत्यु के जोखिम को कवर करती है। टर्म प्लान बीमा कृत व्यक्ति को सबसे कम प्रीमियम पर जीवन बीमा प्रदान करती है।

बीमा प्रकार ( KINDS OF INSURANCE )
(1) जीवन बीना
(2) गैर जीवन बीमा
(3)पूर्णबीमा

नेतिक खतरे ( MORAL HAZARDS ) क्या है?
झुठ , बईमानी , स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही लालच इत्यादि |

जोखिम का समूह ( POOLING Of RISK ) क्या है?
एक समान जोखिम वाले लोगो को एक समूह मैं रखना।

अवधि बीमा ( TERM INSURANCE ) क्या है?
Maturity मूल्य से पालिसी अवधि में जोखिम सुरक्षा तक।

बंदोबस्ती योजना ( ENDOWMENT ) क्या है?
मरने जीने दोनों पर बीमा की राशी मिलती है।

आन्तरिक बोनस – बीमा कम्पनी मैं मूल्याकन की तारीख 31 मार्च एक मूल्याकन परिणाम सितम्बर के माह मैं घोषित होता 31 मार्च एवं सितम्बर से पहले यदि कोई दावा आती है। तो उसके बोनस का भुगतान एक्युरी एक अलग बोनस से करते है। जिसे आंतरिक बोनस कहा जाता है।

समूह बीमा ( GROUP INSURANCE ) क्या होता है?
बहुत से लोगो का बीमा एक पालिसी में लेना इसमें नियोक्ता प्रीमियम देगा उसके बाद कर्मचारियों को बीमा होगा समूह में 25 लोग होने चाहिए एवं पालिसी मास्टर कहलाती है।

शुध बंदोबस्ती योजना क्या है ?
जीने पर ही दिया गया धन वापस मिलता है।

बोनस क्या है?

Maturity दावा या मरने दावा पर बीमा धन के साथ मिलने वाली अतरिक्त राशी यह चार प्रकार का होता है।

साधारण बोनस – प्रतिवर्ष बीमाधन पर मिलने वाला बोनस होता है।

चक्रवर्ती बोनस -प्रतिवर्ष बीमाधन और पूर्व के बोनस पर मिलने वाला बोनस होता है।

अंतिम बोनस – लम्बी अवधि वाली पालिसीयो पर मिलने वाला बोनस होता है।

लदान ( LOADING ) क्या है?
प्रीमियम पर कम्पनी द्वारा मागी गयी अतिरिक्त राशि जिसके कई कारण है जैसे- कम्पनी के खर्च मैं बडोतरी , सहभागी पालिसी पर दिया गया बोनस ( मूल्याकन के बाद ) अनापेक्षित आकस्मक आने वाले बड़े मरने दाबे ( बाढ़ भूकम्प ) मरने की संख्या में इजाफा आदि।

दावे क्लेम क्या है?
परिपक्वता दावा उतर जीविता लाभ ,घटी बीमा राशी का भुगतान ,चुकता मूल्य नही दावा मूल्य दावे।
(1 ) शीघ्र
(2 ) सामान्य।

विधि तथा ग्राहक
(1) पारिश्रमिक 1938 बीमा अधिनियम।
(2 ) छूट देने का निषेध।
(3 ) बीमा एजेंट का लाइसेंस।
(4 ) न्याय /न्यासी।
(5 ) उच्च तथा निम्न जोखिम्युक्त ग्राहक।

धारा 40 क्या है?
लाइसेंस प्राप्त अभि कर्ता के अतिरिक्त अन्य व्यक्ति को बीमा प्राप्त करने के लिए किसी भी प्रकार से भुगतान का निषेध करता है।

धारा -42 क्या है?
बीमा एजेंट का लाइसेंस होना जरुरी है।

धारा 44 क्या है?
पाच वर्षो तक एजेंसी चलाने के पश्चात एजेंसी समाप्त होने पर भी नवीकरण कमिशन देय है, यदि समाप्ति वर्ष पूर्व कम से कम 50000 कुल बीमित राशि की पालिसी उस वर्ष मैं बीमाकर्ता (LIC ) को मिली हो।

प्रश्न 1. बीमा लेने की आवश्यकता क्यों है ?
Ans . अपना भविष्य को सुक्षित बनाना , अपने जीवन को सुरक्षित रखना और बचत के लिए।

प्रश्न 2.अगर कोई कम्पनी अख़बार के जरिये अपना बीमा प्रोडक्ट को बेचती है तो उसे क्या कहते है ?
Ans .डायरेक्ट सेल या बिक्री।

प्रश्न 3.यदि 5 % बोनस हर साल दिया जाता है तो एक लाख के एस ए पर 15 साल बाद दोबारा समान निराक्ष्ण किया जाये तो क्या भुगतान होगा ?
Ans . 75000 .

प्रश्न 4. माइक्रो या लघु बीमा प्रोडक्ट्स कौन से बाज़ार मैं किन व्यक्तियों को दिया जाता है ?
Ans. इसमें आपको अपने परिवार की सुरक्षा दिया जाता है बच्चे की शिक्षा और शादी मैं काम आता है अगर अपनी नौकरी से रिटायर हो गए तब तक।

प्रश्न 5. IRDA की शुरुआत कब की गयी ?
ANS. 1999 .

प्रश्न 6. पुन बीमा कर्त्ता का ग्राहक कौन है ?
Ans. बीमा कंपनी।

प्रश्न 7. IRDA का क्या कर्तव्य है ?
Ans . ये बीमा कम्पनी के विकाश के लिए Rule और इनको समय समय पर निर्देश दिए जाती है और इन पर नजर रखी जाती है।

प्रश्न 8. यदि ग्राहक सभी वीतय वस्तुओ में भेद भाव करना चाहे तो वह किस आदमी से सही राय ले सकता है ?
Ans . दलाल।

प्रश्न 9. सीता अपने परिवार की सुरक्षा के लिए एक मियादी बिमा योजना को लेना चाहता है , उसे किसे मिलने की सलाह दी जानी चाहिए ?
Ans . जीवन बिमा।

प्रश्न 10.  एक सामान्य योजना के किस प्रकार सम्ताहिक क़िस्त को प्राप्त किया जाता है?
Ans. माइक्रो बीमा।

प्रश्न 11. किसी भी नुकसान का सिधान्त उस सिधान्त पर आधारित होता है की जिसने पालिसी ली उसको बचाना ?
Ans . बिमा से लाभ अर्जित कर रहे है।

प्रश्न 12. नरेश एक बीमाकर्ता है जिसको किसी भी काम के लिए बिमा किश्त को लगाने का गहरा अनुभव है उनका प्रोफाइल किस प्रकार का होगा ?
Ans . एक बिमकंक।

प्रश्न 13. बीमाकरणीय लाभ कब लागू होता है?
Ans . सविधा का शुरू मैं।

प्रश्न 14. बीमा किस जिखिम के लिए किया जाता है ?
Ans. शुध जोखिम।

प्रश्न 15. बीमा किस तरह की विधि है ?
Ans. जोखिम किसी और को देना।

प्रश्न 16. जीवन बीमा लेने का मुख्य कारण क्या है ?
Ans. जीवन की सुरक्षा।

प्रश्न 17. अखबार में विज्ञापन के माध्यम से सामान बेचने वाली बिमा कंपनी को क्या कहाँ जाता है ?
Ans . प्रत्यक्ष बिक्री।

प्रश्न 18. बिमा व्यवसाय से तालुक है ?
Ans . परिसपंतियो का आर्थिक मूल्य।

प्रश्न 19. अप्रत्यक्ष विपणन का कोनसा मार्ग सही नहीं होता ?
Ans . इंटरनेट के द्वारा।

प्रश्न 20.एक बीमा चालक किसके बीच मध्यस्थ है ?
Ans . ग्राहक व् बिमा कंपनी।

प्रश्न 21. एक सविंदा सामने आती है तो क्या होता है ?
Ans . एक पार्टी पेशकश करती है और दूसरी पार्टी बिना शर्तो को सविक्रिती करती है |

प्रश्न 22. बेंक इसोयोरंस क्या है ?
Ans . बैंक के द्वारा बिमा बिक्री |

प्रश्न 23. बिमा बाजार बटा हुआ है ……… ?
Ans जीवन एंव सामान्य ( गेर जीवन बिमा )

प्रश्न 24. ग्राहक का प्राथमिक बीमाकर्ता कौन है?
Ans . अभिकर्ता।

प्रश्न 25. किस पालिसी मैं पालिसी धारक लोन ले सकता है?
Ans . मियादी पालिसी।

प्रश्न 26. जोखिम मैं क्या समलित होता है?
Ans. संकटपूर्ण और खतरनाक , स्तर ,अनिश्चिता।

प्रश्न 27. बीमा कपनी द्वारा एक समानं जोखिम को सूचीबद्ध करना क्या कहलाता है?
Ans. जोखिम पुलिग।

प्रश्न 28. श्री महेश एक सॉफ्टवेर इंजीनियरिंग है उसने तीन लाख रूपये 30 वर्ष के लिए मियादी बीमा लिया यह किस तरह का उधाह्र्ण है?
Ans . जोखिम हस्ताक्षर।

प्रश्न 29. एक बीमा पालिसी मैं फ्री लॉक इन पीरियड कब शुरू किया गया है?
Ans. जब पालिसी प्राप्त की जाती है।

प्रश्न 30. जीवन बीमा सविधा मैं बीमाक्र्नीय ब्याज की आवश्यकता कब पड़ती है?
Ans. पालिसी के पारंभ होने पर।

प्रश्न 31. दावे की सुचना एक समाचार पत्र मैं विज्ञापन के माध्यम से देंने की जरूरत क्यों पड़ती है?
Ans. पालिसी के दस्तावेज गुम होने पर।

प्रश्न 32. बिमा व्यापार को कोनसे तीन मुख्या प्रकारों पर बांटा गया है ?
Ans . जीवन , सवास्थ्य .पुनबिमा।

प्रश्न 33.जीवन बिमा कंपनी जोखिम की गणना किस आधार पर करती है ?
Ans . दावे के अनुभव पर।

प्रश्न 34. जीवन बिमा में जोखिम को किस आधार पर निर्धारित किया जाता है ?
Ans . विगंत आकडे।

प्रश्न 35. मनुष्य को जीवन बिमा की जरूरत क्यों होती है ?
Ans . मृत्यु का समय अनिश्चित है।

प्रश्न 36. पालिसी लेने के बाद कितने दिन के भीतर ग्राहक पालिसी को वापस कर सकता है?
Ans . 15 दिन के भीतर।

प्रश्न 37. बीमा सविधा मैं प्रवेश करने की न्यूनतम आयु क्या है?
Ans . 18 साल तक

प्रश्न 38. एक अभिकर्ता ने 10 फरवरी 2011 को पालिसी स्म्प्रपित की यह ग्राहक नई योजना कब खरीद सकता है?
Ans . 2014 मैं।

प्रश्न 39. एक पालिसी के दो नाम्कित व्यक्ति है दोनों नामकित व्यक्तियों को क्या राशी दी जानी चाहिए?
Ans . इस सम्बद्ध मैं किसी भी प्रकार की कोई सीमा नही है।

प्रश्न 40. लोकपाल को कितने दिन मैं अपना फैसला लेना होता है ?
Ans. 30 दिन मैं लेना होता है।

प्रश्न  41. ग्राम पंचायत से प्राप्त आयु प्रमाण है?
Ans . मानक नही है परतु स्वीकार है।

प्रश्न 42. एम् पी एल का पूरा मतलब क्या है?
Ans . मैक्सिमम पोसिबल प्रोसेस।

प्रश्न 43. आयकर छूट लाभ हेतु बीमा क़िस्त का अधिकतम स्तर क्या है?
Ans . 100000 .

प्रश्न 44. एक ग्राहक ने एस ए 800000 और निहित बोनस 60000 के साथ एक स्थायी निधि पालिसी ली है उसने 30 वर्ष की योजना मैं 8 वर्ष वार्षिक बीमा किस्तों का भुगतान किया है, भुगतान किये गए चुकता मूल्य की गणना करे?
Ans . 273333 .

प्रश्न 45. मीनू के जीवन पर शीनू एक पालिसी लेता है तो मीनू क्या है?
Ans. प्रस्तावकर्ता।

प्रश्न 46. बीमा पालिसी की परिपवक्ता पर राशी का केवल 25 प्रतिशत भुगतान किया जाता है इसका क्या कारण हो सकता है?
Ans . यह धन वापसी पालिसी है।

प्रश्न 47. शुद्ध प्रीमियम बराबर है?
Ans . जोखिम प्रीमियम +ब्याज अर्जन।

प्रश्न 48. बीमा अधिनियम 1938 ने इनमे से क्या सुरजीत किया?
Ans . प्रशुल्क सलाहकार समिति TAC .

प्रश्न 49. अधिक संख्या का नियम बीमाकर्ता को सहायता करता है?
Ans . मुर्त्यु दर को निर्धारित करने मैं।

प्रश्न 50. सुक्ष बीमा मैं अधिकतम सुरक्षा कितनी होती है?
Ans . 50000 तक।

प्रश्न 51. जो परिवार की सुरक्षा चाहता है उसके लिए कौन सी पालिसी अच्छा है?
Ans . मियादी पालिसी।

प्रश्न 52. कौन सा बीमा उत्पाद धारा 80C के तहत आयकर अधिनियम 1961 नही आता है?
Ans . हेल्थ बीमा योजना का अदा किया गया प्रीमियम।

प्रश्न 53. एक व्यक्ति बीमा लेकर प्रीमियम का भुगतान कर बीमाकर्ता को हस्तारित करता है वो क्या कहलाता है?
Ans . जोखिम।

प्रश्न 54. राज ने हाल ही मैं एक हेल्थ बीमा पालिसी और एक व्यक्तिगत दुर्घटना पालिसी खरीदी है, बताये की ये पालिसी किस बीमा बाज़ार से सम्बधित है?
Ans . दोनों ही तरीके से ये एक गैर जीवन बीमा पालिसी है।

प्रश्न 55. गैर जीवन बीमा कम्पनी मैं जोखिमकर्ता की मुख्य क्या भूमिका है?
Ans . विशेष रूप से जोखिम की स्वीकार्यता का आकलन करना।

प्रश्न 56. अक्षित अपेशाकृत रातर्क व्यक्ति है बीमा के सन्धर्भ वह समान्यता विरधी करना पसद करेगा?
Ans . आवश्यक बीमा जोखिम।

प्रश्न 57. बीमा मैं जोखिम के पुलिग का क्या अर्थ है?
Ans . समस्त समरूप जोखिम एक साथ पुल किये गए।

प्रश्न 58. कार्यरत व्यक्ति को कितना बीमा दिया जा सकता है?
Ans . मानव जीवन मूल्य के अनुसार।

प्रश्न 60. आतरिक बोनस किस अवधि तक वैध है?
Ans . अगले बोनस की घोषणा तक।

प्रश्न 61. अप्रवासीय भारतीय द्वारा निवेश होगा?
Ans . जोखिम उच्च जोखिम।

प्रश्न 62. ए सी आर की आवश्यकता क्यों पड़ती है?
Ans . प्रस्ताविक योजना को सत्यापित करना बीमाकर्ता को जोखिम आंकलन मैं सहायता करना।

प्रश्न 63. अवधि बीमा के अंतर्गत आपदाओ और जोखिमो के मध्य समान्यता कैसे अंतर किया जाता है?
Ans . आपदाए वे खतरे है की पालिसीधारक की विनिदिर्ष्ठी दिनाक से पहले मुर्तु हो जायेगी उन खतरे को प्रभावित कर सकते है।

प्रश्न 64. बीमा के स्धर्भ मैं एक अपगता होने का खतरा किस प्रकार के जोखिम के रूप मैं वर्णित है?
Ans . वितीय।

प्रश्न 65.ग्रह बीमा पालिसी के लिए बीमा हित केवल शुरू मैं मौजूद होना जरुरी है?
Ans . दावा उत्पन्न होने की तारीख पर।

प्रश्न 66. हरी बारला यहा नौकरी करता है इस रोजगार के सदर्भ मैं हरी बारला के जीवन मैं बीमा हित किस सीमा तक है?
Ans .हरीके मासिक वेतन।

प्रश्न 67. प्रस्तावक निर्णय के सम्बद्ध मैं ग्राहक को कितने दिनों के दौरान सूचित किया जाना चाहिए?
Ans . 15 दिन।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here