Travel Now Pay Later: फॉरेन ट्रिप करना चाहते हैं पर पैसों की बहुत तंगी हैं? परेशान न हों, EMI से पेमेंट का खुला है ऑप्‍शन

0
36

Travel Now Pay Late: विदेश घूमने-फिरने के लिए अब पैसा बाधा नहीं होगी । ‘ट्रैवल नाउ पे लेटर’ का ऑप्‍शन तेजी से बढ़ रहे है। बड़ी संख्‍या में लोग इस ऑप्‍शन का उपयोग कर रहे हैं। इसकी बड़ी जोरदार डिमांड है। आईटी प्रोफेशनल खासतौर से इस ऑप्‍शन को एक्‍सप्‍लोर कर रहा हैं। ट्रैवल कंपनियों को बहुत उम्‍मीद है कि इसमें और बढ़त होगी।

चेन्‍नई: कोरोना काल के बाद फॉरेन ट्रिप करना चाहते हैं पर पैसे नहीं हैं? न तो मन मारने की जरूरत है न परेशान होने की जरूरत है । ईएमआई का ऑप्‍शन खुल गया है। आप विदेश से घूमकर आने के बाद किस्‍तों में पैसे लौटा सकते हैं।

Travel Now Pay Later: फॉरेन ट्रिप करना चाहते हैं पर पैसों की बहुत तंगी हैं?

बड़ी संख्‍या में लोग इस ऑप्‍शन का उपयोग कर हैं। यह उन्‍हें काफी ज्यादा सुविधा जनक लग रहा है। कोरोना काल का खौफ अब खत्‍म हो गया है। अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानें दोबारा बहाल हो गए हैं। दो वर्ष की बंदिशों के बाद लोगों की सैर-सपाटा की इच्‍छा भी बढ़ गयी है। यह और बात है कि रुपये-पैसे की भी दबाव है।

Read Also-

इसका रास्‍ता एक वर्ग ने निकाला गया है। वह मासिक किस्‍तों (EMI) पर विदेश में वेकेशन मनाने निकल रहे है। वेकेशन लोन (Vacation Loan) की डिमांग में तेजी आए है। ट्रैवल कंपनियां ‘बाय नाउ, पे लेटर’ (BNPL) ऑफरों में जमकर मांग देखी जा रही हैं। इसकी अधिक मांग आईटी सेक्‍टर के प्रोफेशनलों और हनीमून मनाने वालों में है।

Travel Now Pay Late: ट्रैवल एजेंटों की ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्‍यू (GMV) का ट्रैवल लोन सिर्फ 1 से 2 प्रतिशत हैं। हालांकि, पेमेंट ऑप्‍शन के तौर पर इसकी हिस्‍सेदारी जीएमवी का करीब 5 प्रतिशत होने के आसार हैं। लीडिंग टूर ऑपरेटरों का कहना है कि ईएमआई ऑप्‍शन ग्राहकों को लुभा रही है। इस ऑप्‍शन को 40 प्रतिशत तक ग्राहक तलाश रहे हैं।

उदाहरण से समझते हैं क्‍या है सीन?

थॉमस कुक के उदाहरण लेते हैं। इसके मामले में वेकेशन के लिए ईएमआई ऑप्‍शन की तलाश करने वालों में 25 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। ‘ट्रैवल नाउ पे लेटर’ के लिए इसने फिनटेक कंपनी के साथ पार्टनरशिप किया है। थॉमस कुक (इंडिया) के प्रेसीडेंट और कंट्री हेड राजीव काले ने बताया , ‘इसके अलावे हम कई बैंकों के साथ क्रेडिट फेसिलिटी की भी पेशकश करते हैं। इनमें 3-13 महीनों में किस्‍तों में पैसे लौटाने की सुविधा भी दी जाती है।’

Travel Now Pay Late: थॉमस कुक की सब्सिडियरी एसओटीसी ट्रैवल के प्रेसीडेंट और कंट्री हेड डेनियल डिसूजा ने बताया कि इंटरनेशनल ट्रैवल लोन का औसत ट्रांजैक्‍शन साइज 1.5 लाख रुपये होता है। चेन्‍नई की ट्रैवल कंपनी मदुरा ट्रैवल सर्विस ने भी जनवरी और जून के बीच ऐसे ग्राहकों में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी है। इन्‍होंने घूमने-फिरने के लिए क्रेडिट कार्ड ईएमआई ऑप्‍शन, बैंकों के पास से पर्सनल लोन लिया गया है। इस सेगमेंट में बैंकों और एनबीएफसी की हिस्सेदारी बढ़ी हुए है।

लोन र‍िपेमेंट ऑप्‍शन बना बहुत ही आसान

मदुरा ट्रैवल सर्विस के एमडी श्रीहरण बालन ने बताया कि पहले लोग पैसे बचाकर घूमने-फिरने जाते थे। लेकिन, कोरोना काल के बाद उनके लिए लोन लेकर बाद में रिपेमेंट करने का ऑप्‍शन आसान हो गया है। हाल में लोग ईएमआई के आदी हो चुके हैं। उन्‍होंने बताया कि फॉरेन टूर के लिए ईएमआई ऑप्‍शन का प्रयोग करने वालों की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है। 2019 में ऐसे 10 प्रतिशत लोग थे। 2022 में यह संख्‍या बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई।

ट्रैवल फिनटेक SanKash ने जनवरी-जून के बीच 70 करोड़ रुपये के इंटरनेशनल ट्रैवल लोन की प्रोसेसिंग की गई है। कोरोना काल के बाद इस तरह के लोन के लिए पूछताछ में भारी इजाफा हुआ है। कोरोना काल से पहले यह स्थिति अलग थी। for students Ncert Solution

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here